18 December 2017, Mon

आज के दिन ही सचिन ने रचा था अनोखा इतिहास

Created at February 24, 2017

आज के दिन ही सचिन ने रचा था अनोखा इतिहास
Updated at February 24, 2017
 

नई दिल्ली। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने आज के दिन (24 फरवरी) को ऐसा इतिहास रचा था, जिसे आज भी याद किया जाता है। जी हां, 24 फरवरी 2010 को सचिन ने वनडे क्रिकेट में पहली डबल सेंचुरी मारी थी। उन्होंने ग्वालियर के कैप्टन रूप सिंह स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह काम किया था। सचिन की इस तूफानी पारी के दम पर ही भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन विकेट पर 401 रनों का लक्ष्य खड़ा किया था।

 

इस रिकॉर्ड की खास बात ये है कि तेंदुलकर ने ये कमाल भारतीय पारी के आखिरी ओवर में किया। सचिन तेंदुलकर द. अफ्रीकी गेंदबाज चार्ल्स लेंगरवेंथ का सामना कर रहे थे । सचिन ने गेंद को पॉइंट की ओर खेला और एक रन पूरा कर और इस एक रन ने इतिहास रच दिया। यह कोई आम रन नहीं था। यह इस मैच में सचिन के बल्ले से निकला 200वां रन था। यह वनडे क्रिकेट में किसी पुरुष बल्लेबाज द्वारा बनाया गया पहला दोहरा शतक था।

 

इस पारी के साथ ही सचिन ने पाकिस्तान के सईद अनवर और जिम्बाब्वे के चार्ल्स कॉन्वेंट्री के 194 रनों के रिकॉर्ड को तोड़ा था। अनवर ने भारत और कॉन्वेंट्री ने बांग्लादेश के खिलाफ ये पारियां खेली थीं। यूं तो सचिन को वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाला पहला बल्लेबाज माना जाता है पर इससे पहले महिला क्रिकेट में यह कारनामा हो चुका है। ऑस्ट्रेलिया की बैटर ब्लिंडा क्लार्क अंतरराष्ट्रीय वनडे इंटरनैशनल में दोहरा शतक लगाने वाली पहली खिलाड़ी हैं। 1997-98 महिला वर्ल्ड कप के एक मुकाबले में डेनमार्क के खिलाफ 229 रनों की पारी खेली थी। यह मैच मुंबई के बांद्रा के मिडल इनकम ग्रुप ग्राउंड पर 16 दिसंबर 1997 को खेला गया था।