18 December 2017, Mon

बरसते पानी में भी भभकती रही लकड़ी पीठों की भीषण आग

Created at May 30, 2017

बरसते पानी में भी भभकती रही लकड़ी पीठों की भीषण आग
Updated at May 30, 2017
 

इंदौर। जीएनटी मार्केट में आधी रात एक लकड़ी पीठे में लगी आग ने पास के ही दो अन्य लकड़ी के पीठों को भी अपनी चपेट में ले लिया। देखते ही देखते आग इतनी उग्र हो उठी कि फिर उस पर बारिश का भी कोई असर नहीं हुआ। आखिर बचाव दल ने जेसीबी मशीन बुलवाकर आग के मलबे हटाते हुए कार्रवाई शुरू की है। खबर लिखे जाने तक वहां रह- रहकर आग भभकती रही।
धार रोड स्थित श्री गुरुनानक टिंबर मार्केट में रात लगभग साढ़े तीन बजे एक लकड़ी के पीठे में आग लग गई। गोदाम के भीतर से धुआं निकलता देख चौकीदार व आसपास रहने वाले मजदूरों ने पुलिस कंट्रोल रूम व फायर ब्रिगेड पुलिस को सूचित किया। फिर वहां उपलब्ध साधनों से आग बुझाने के प्रयास शुरू किए थे। जीएनटी मार्केट में बने फायर सब स्टेशन पर तैनात एक दमकल व तीन कर्मचारी तो कुछ दी देर में मौके पर पहुंचकर कार्रवाई में जुट गए थे। इस बीच रात की ड्यूटी पर तैनात एएसआई कृष्णकुमार व ८ अन्य कर्मचारी दो अन्य दमकलों के साथ मौके पर पहुंचे। इस बीच वहां बड़ी मात्रा में रखी लकड़ी जलने से निकल रही आग की बड़ी-बड़ी लपटों ने आसपास के दो अन्य लकड़ी के पीठों को भी अपनी चपेट में ले लिया।

बारिश भी बेअसर
कार्रवाई के दौरान करीब ४.२० बजे बारिश होने लगी थी, करीब आधे घंटे तक पानी गिरता रहा मगर बारिश का भी पीठों में लगी आग पर कोई खास असर नहीं हो सका था। टीन शेड व राख के ढेर के भीतर बड़ी मात्रा में दबी लकड़ी अंदर ही अंदर सुलगती रही थी। बारिश बंद होते ही वहां फिर से आग की लपटें निकलने लगीं। कार्रवाई के प्रभारी शर्मा के अनुसार सुबह आठ बजे तक वहां तीन दमकलों ने ३२ टैंकर पानी का उपयोग किया फिर भी आग नहीं बुझी तब नगर निगम की जेसीबी मशीन बुलवाकर वहां पड़े लकड़ी के ढेरों को बिखराकर पानी डालने की प्रक्रिया शुरू की गई। शर्मा के अनुसार आग को पूरी तरह बुझाने में अभी कुछ घंटे और भी लग सकते हैं। इधर पीठे में आग लगने की खबर मिलने के बाद अनेक व्यापारी व बड़ी संख्या में लकड़ी पीठों में काम करने वाले मजदूर वहां आ पहुंचे। वहां लगी आग का धुआं पास ही स्थित समाजवादी इंदिरा नगर व आसपास की बस्तियों तक जा पहुंचा था। फिलहाल ये खुलासा नहीं हुआ है कि उन पीठों के मालिक कौन हैं। आग बुझाने के बाद पूरी घटना की जांच होगी।